UP Police Training Syllabus Part 1

udtinew1@gmail.com
up police training syllabus

Up Police Training Syllabus के अंतर्गत प्रायः दो प्रकार का SYLLABUS होता है अभ्यर्थियों की शारीरिक दक्षता को ध्यान में रखते हुए अभ्यर्थियों को शारीरिक रूप से मजबूत बनाने व अपने दुश्मन का मुकाबला करने के उद्देश्य से तथा उत्तर प्रदेश पुलिस के जवानों को शिक्षित व पुलिस के पूर्व इतिहास व उसकी कार्य विधि का क्रियान्वयन करने हेतु UP POLICE TRAINING SYLLABUS का स्ट्रक्चर तैयार किया गया।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

जब हम किसी भी पुलिस सेवा में चाहे वह राष्ट्रीय स्तर की हो या प्रदेश स्तर की चुने जाते हैं सबसे पहले हमें वहां एक प्रशिक्षण की आवश्यकता होती है, जिससे हमें उस विभाग की ( उससे संबंधित कार्य व कर्तव्य निर्वहन तथा अपने से वरिष्ठ अधिकारियों की पहचान व अभिवादन ) आदि की जानकारी हो सके यूपी पुलिस क्या है ? UP POLICE TRAINING SYLLABUS 2023 अर्थात POLICE TRAING SYLLABU LATEST के बारे में सही जानकारी प्रदान करेंगे ।

यूपी पुलिस ट्रेनिंग सिलेबस में अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा हेतु 8 सब्जेक्ट पर ध्यान देना अति आवश्यक है आज हम इन्हीं सब्जेक्ट को ध्यान में रखते हुए आपको जानकारी दे रहे हैं जो निम्न है –

UP POLICE TRAINING SYLLABUS –

UP POLICE TRAINING SYLLABUS प्रथम प्रश्न पत्र – भारतीय पुलिस का इतिहास ( UP POLICE के विशेष संदर्भ में ) ,जनतांत्रिक कल्याणकारी राज्य में पुलिस की भूमिका, पुलिस स्मृति दिवस एवं शहीद पुलिसकर्मियों हेतु उपलब्धियां एवं पुरस्कार, पुलिस के समक्ष वर्तमान चुनौतियां, उत्तर प्रदेश पुलिस में बेस्ट प्रैक्टिसेस ( वूमेन पावर लाइन 1090, यूपी 112, ऑपरेशन स्माइल, वर्चुअल क्लास ) इत्यादि।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS पुलिस संगठन –

(A) केंद्रीय पुलिस संगठन एवं शाखाएं1- केंद्रीय आर्म्ड पुलिस फोर्स (CAPF), सीमा सुरक्षा बल(BSF), केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF), केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF), भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP), सशस्त्र सीमा बल (SSB), राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड(NSG), विशेष सुरक्षा दल(SPG) इत्यादि ।

(B) सेंट्रल पुलिस ऑर्गेनाइजेशन(CPO)- केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI), आसूचना ब्यूरो (IB), रो एंड एनालिसिस विंग, पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो (BPR&D), राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (NIA), राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB), राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF), स्वापक नियंत्रण ब्यूरो (NCB), नेशनल टेक्निकल रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन (NTRO), राष्ट्रीय पुलिस अकादमी (NPA), सीएफएसएल(CFSL) नई दिल्ली, सीएफएसएल(CFSL) चंडीगढ़, सीएफएसएल (CFSL)कोलकाता, सीएफएसएल(CFSL) हैदराबाद इत्यादि ।

अन्य पढ़े –UP Police Bharti 2023 : बहुत जल्द 35000 पदों पर होगी यूपी पुलिस भर्ती

UP POLICE के संगठन एवं शाखाएं – उत्तर प्रदेश पुलिस का संगठनात्मक ढांचा, पुलिस के प्रतीक चिन्ह, पुलिस महानिदेशक के सहायक का कार्यालय, कार्मिक कार्यालय, अपर पुलिस महानिदेशक कानून एवं व्यवस्था कार्यालय, क्राइम ब्रांच, उत्तर प्रदेश भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड, सुरक्षा शाखा, मानवाधिकार प्रकोष्ठ, लोक शिकायत कार्यालय, लीगल सेल, उत्तर प्रदेश पुलिस मुख्यालय प्रयागराज, रेलवे पुलिस, महिला सम्मन प्रकोष्ठ,

स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT), स्पेशल एंक्वायरी सेल, यातायात निदेशालय, उत्तर प्रदेश फायर सर्विसेज, उत्तर प्रदेश पुलिस कंप्यूटर सेंटर, उत्तर प्रदेश राज्य विद्युत परिषद, सेंट्रल स्टोर कानपुर, सेंट्रल रिजर्व सीतापुर, पुलिस मोटर परिवहन कार्यालय सीतापुर इत्यादि ।

(C) UP POLICE के जॉन कार्यालय परिक्षेत्र कार्यालय

(D) UP POLICE के पुलिस अधीक्षक कार्यालय एवं जिला स्तरीय शाखाएं – (1) जनपद पुलिस अधीक्षक कार्यालय, प्रधान लिपिक कार्यालय, शिकायत प्रकोष्ठ, डीसीआरबी (DCRB), सम्मान सेल, आईजीआरएस (IGRS)सेल, क्राइम ब्रांच, पैरवी सेल, FIR सेल, कंट्रोल रूम, रिपोर्टर कार्यालय, स्थानीय अभिसूचना इकाई ( LIU ) इत्यादि ।

(2) POLICE LINE – प्रतिसार निरीक्षक कार्यालय, शस्त्रागार, जीडी कार्यालय, स्टोर कार्यालय, कैश कार्यालय इत्यादि ।

(3) गोपनीय कार्यालय – आंकिक /आशुलिपिक ( स्टेनो )कार्यालय, वाचक कार्यालय, सर्विलांस सेल, पीआरओ सेल, एसओजी, एसपी कार्यालय, क्षेत्राधिकारी कार्यालय इत्यादि ।

(4) थाना चौकी एवं बीट के कार्य व प्रकार, कार्य वितरण, रोल कॉल एवं ड्यूटी रजिस्टर

(5) UP POLICE की अन्य शाखाएं – अभियोजन निदेशालय, उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान, उत्तर प्रदेश होमगार्ड मुख्यालय, अभिसूचना मुख्यालय, अपराध अन्वेषण विभाग, रेडियो मुख्यालय, प्रशिक्षण निदेशालय, भ्रष्टाचार निवारण संगठन, विधि विज्ञान प्रयोगशाला, अंगुल छाप ब्यूरो, पीएसी आदि ।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS के अंतर्गत UP POLICE का विभागीय समन्वय – अपराधिक न्याय व्यवस्था की विभिन्न शाखाएं, अंतः विभागों से समन्वय जैसे – राजस्व विभाग, परिवहन विभाग, वन विभाग, खनन विभाग, विद्युत विभाग, खाद्य एवं आपूर्ति विभाग, शिक्षा विभाग, कारागार विभाग, चिकित्सा विभाग, अधिकारी विभाग, भू अभिलेख एवं पैमाइश, तहसील दिवस, थाना दिवस, श्रावस्ती मॉडल आदि की जानकारी और समन्वय इत्यादि ।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS के अंतर्गत पुलिस की कार्यप्रणाली एवं अनुशासन – उत्तर प्रदेश पुलिस आरक्षी एवं मुख्य आरक्षी सेवा नियमावली – 2015, उत्तर प्रदेश अधीनस्थ श्रेणी के पुलिस अधिकारी एवं कर्मचारी ( दंड एवं अपील ) नियमावली – 1991, उत्तर प्रदेश राज्य कर्मचारी आचरण नियमावली -1956, अपेक्षित और शिष्टाचार गोपनीयता, सेवा अभिलेख एवं सेवा पुस्तिका, जॉइनिंग, आमद एवं रवानगी के नियम तथा समस्याओं हेतु आवेदन, उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती विनिमय ( वर्दी पहनने के नियम ),

नियुक्ति, यात्रा भत्ता एवं स्थानांतरण यात्रा भत्ता, आवासीय सुविधाएं, सरकारी मकान आवंटन, मरम्मत रखरखाव के दायित्व, चिकित्सीय सुविधाएं, अवकाश के नियम अनुमन्य, विभिन्न प्रकार के अवकाश, सेवानिवृत्ति – स्वैच्छिक एवं अनिवार्य शारीरिक अक्षमता के समय मिलने वाली सुविधाएं, सेवाकाल कर्तव्य पालन के दौरान मृत्यु होने पर आश्रितों को मिलने वाले विभिन्न लाभ एवं असाधारण पेंशन के नियम आरक्षी के कर्तव्य व शक्तियां इत्यादि ।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS –

UP POLICE TRAINING SYLLABUS प्रश्न पत्र द्वितीय – (1) अपराध नियंत्रण – बीट एवं गस्त व्यवस्था का परिचय, अपराध निरोध मैं वीट व्यवस्था की भूमिका, वीट का रखरखाव, बीट कर्तव्य दिन व रात्रि, वीट कर्तव्य शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र में, बीट से वापसी के उपरांत की जाने वाली क्रियाएं, गस्त, गश्त के प्रकार, गस्त की उपयोगिता, ग्राम सुरक्षा समितियों एवं मोहल्ला सुरक्षा समितियों का महत्व एवं उपयोगिता,

सेवानिवृत्त पुलिस अधिकारियों, अग्नि अस्त्र धारकों तथा चौकीदारों से सहयोग व सहायता प्राप्त करना, अजनबी एवं दुष्ट चरित्र व्यक्तियों की जांच एवं निगरानी तथा फ्लाईशीट भरना, अजनबी एवं दुष्ट चरित्र व्यक्तियों की नामावली तैयार करना, सूचना संकलन में आरक्षी की भूमिका, सूचना संकलन, भंडारण, वर्गीकरण, विश्लेषण एवं निर्णय के तरीके, मुखबिर को विकसित करना, गतिशील चेकपोस्ट व नाकाबंदी की जानकारी, अजनबी संदिग्ध व्यक्तियों से पूछताछ, पूछताछ का उचित एवं वैज्ञानिक तरीका इत्यादि ।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS में विवेचना

प्रथम सूचना रिपोर्ट, ध्यान देने योग्य तथ्य धारा 154 एवं 155 दंड प्रक्रिया संहिता, ललिता कुमारी बनाम उत्तर प्रदेश राज्य याचिका संख्या ( क्रिमिनल 68/2008 ), श्रीमती रीना कुमारी बनाम उत्तर प्रदेश राज्य एवं अन्य रिट पिटिशन संख्या 10792 /2015, पीपुल्स यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज एवं एक अन्य बनाम महाराष्ट्र राज्य एवं अन्य, विवेचक सहयोगी के रुप में आरक्षी के कर्तव्य एवं उत्तरदायित्व, विवेचना का अभिप्राय एवं अंतिम रिपोर्ट,

अभियुक्त के प्रकार, डीके बसु बनाम पश्चिम बंगाल राज्य 1997 से संबंधित केस लॉ, अपराधों घटनास्थल का अनुक्रम तथा अपराधों घटनास्थल को सुरक्षित एवं संरक्षित रखना, चोट ग्रस्त पीड़ित व्यक्ति के साथ बर्ताव, गिरफ्तारी कैसे की जाए के क्रियात्मक अंश, प्रतिरोधी आक्रामक व्यक्ति की गिरफ्तारी संपन्न किया जाना, किसी व्यक्ति के पास पहुंचने का तरीका, जामा तलाशी के नियम, हथकड़ियों का प्रयोग कैसे करें, गिरफ्तारी / तलाशी मेमो तैयार करना, निरोधात्मक कार्यवाही के प्रकार एवं अपराधों नियंत्रण में उनका महत्व, समन की तमिल करना एवं वारंट का निष्पादन करना, अभियुक्त को सुरक्षित ले जाना एवं न्यायालय में पेश करना,

अपेक्षित कागजी कार्यवाही सहित प्रदर्शनी वस्तुओं की पैकिंग, लेवलिंग व हैंडलिंग, डेड बॉडी परीक्षण हेतु अस्पताल मोर्चरी को ले जाना, विवेचना के दौरान पुलिस मुठभेड़ में मारे गए व्यक्ति की विवेचना के संबंध में महत्वपूर्ण केस ला पीपुल्स यूनियन सिविल लिबर्टीज बनाम महाराष्ट्र राज्य एवं अन्य पुलिस एनकाउंटर में एवं गंभीर चोटों के प्रकरणों में पुलिस द्वारा विवेचना में अपेक्षित कार्यवाही किए जाने हेतु माननीय उच्चतम न्यायालय द्वारा पारित दिशा निर्देश इत्यादि ।

UP POLICE TRAINING SYLLABUS के अंतर्गत अभियोजन

अभियोजन का तात्पर्य एवं महत्व, जनपद न्याय व्यवस्था एवं न्यायालय की शक्तियां, केस की पैरवी में आरक्षी का योगदान, रिमांड व जमानत की प्रक्रिया में आरक्षी का योगदान, पैरोल एवं परिवीक्षा की विधि तथा टूटे हुए व्यक्तियों की निगरानी इत्यादि ।

पुलिस रेगुलेशन – खड़क सिंह बनाम उत्तर प्रदेश राज्य से संबंधित केस लॉ की जानकारी इत्यादि ।

अन्य पढ़े – SSC CHSL BHARTI 2023 : ONLINE FORM 2023 नोटिफिकेशन जारी अंतिम तिथि 8 जून 2023

Leave a comment

Please disable your adblocker or whitelist this site!